कोरोना दुनिया में:- 51.50 लाख संक्रमित: ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री बोले- लंदन में 17% लोगों का एंटीबॉडी टेस्ट पॉजिटिव आया; स्पेन में लॉकडाउन बढ़ाने पर प्रदर्शन

0 8

- Advertisement -

वॉशिंगटन. दुनिया में अब तक 51 लाख 50 हजार 39 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। 20 लाख 55 हजार 129 ठीक हुए हैं। मौतों का आंकड़ा 3 लाख 32 हजार 104 हो गया है। ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री मैट हैंकॉक ने कहा है कि लंदन में 17 प्रतिशत और बाकी ब्रिटेन में 5 प्रतिशत लोगों का एंटीबॉडी टेस्ट पॉजिटिव आया है। इसका मतलब यह है कि इन लोगों को कोरोनावायरस हुआ था। उन्होंने कहा कि सरकार ने फार्मास्युटिकल कंपनी रोशे और एबॉट के साथ एक डील साइन की है, जिसके तहत 1 करोड़ लोगों का एंटीबॉडी टेस्ट किया जाएगा।

स्पेन में लॉकडाउन के खिलाफ प्रदर्शन

स्पेन में कोरोनावायरस के चलते लॉकडाउन बढ़ाने के विरोध में लोग सड़कों पर उतर आए। स्पेन के प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज ने लॉकडाउन को अगले दो हफ्ते तक बढ़ाने का ऐलान किया है। उन्होंने संसद में भी इसके प्रस्ताव की मंजूरी ली है। मैड्रिड में नाराज लोगों ने देश के राष्ट्रीय ध्वज के साथ सड़कों पर रैलियां निकालीं। वहीं लोगों ने घरेलू बर्तन बजाकर भी विरोध जताया।

हॉन्गकॉन्ग: 8 नए केस मिले

हॉन्गकॉग के सेंटर फॉर हेल्थ प्रोटेक्शन (सीएचपी) ने गुरुवार को आठ नए मामलों की पुष्टि की। इसके साथ ही देश में कुल 1,064 मामले हो गए हैं। अधिकारियों ने बताया कि सभी मरीज पाकिस्तान से आए थे। यहां अब तक चार लोगों की मौत हो चुकी है।

रूस: 3099 मौतें

रूस में 24 घंटे में संक्रमण के 8849 मामले सामने आए हैं और 127 लोगों की जान गई है। पिछले दिन के मुकाबले मामले बढ़े हैं। बुधवार को यहां 8764 केस सामने आए थे। देश में अब 3 लाख 17 हजार 554 संक्रमित हो गए हैं, जबकि 3099 लोगों की मौत हो चुकी है।

ग्रीस: 15 जून से पर्यटन शुरू

ग्रीस में पर्यटन को फिर से खोला जाएगा। 15 जून से एथेंस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के लिए सीधी उड़ानें शुरू करने की अनुमति दे दी गई है। हालांकि, देश के सभी हवाई अड्डों पर विमानों का संचालन एक जुलाई से होगा। प्रधानमंत्री किरियाकोस मित्सोताकिस ने कहा, “रेस्तरां 25 मई को फिर खुलेंगे। बीच पर आने से बैन हटा लिया जाएगा।” पर्यटक बिना जांच और क्वारैंटाइन में रहे देश में आ सकेंगे। लेकिन स्वास्थ्य अधिकारी जरूरत पड़ने पर किसी की अचानक जांच कर सकेंगे।

वैक्सीन इतनी जल्दी नहीं आने वाली: एचआईवी वैज्ञानिक

एचआईवी पर रिसर्च करने वाले एक वैज्ञानिक विलियम हेसेनटाइल ने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि कोरोना की वैक्सीन इतनी जल्दी आने वाली है। वे इसका इंतजार नहीं करना चाहेंगे। संक्रमण को रोकने के लिए मरीजों का अच्छी तरह इलाज किया जाना चाहिए। जहां भी संक्रमण फैलता दिखे, वहां लोगों को आइसोलेट किया जाना चाहिए। उन्होंने अमेरिकी सरकार को सलाह देते हुए कहा कि उन्हें टीके के इंतजार में बैठे नहीं रहना चाहिए। साथ ही कहा कि चीन, दक्षिण कोरिया और ताइवान महामारी को फैलने से रोकने में सफल रहे। वहीं, अमेरिका, रूस और ब्राजील नाकाम रहे।

एक दिन में 1.06 लाख केस मिले: डब्ल्यूएचओ

डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, 24 घंटे में संक्रमण के 1 लाख 6 हजार मामले दर्ज किए गए हैं। यह एक दिन का सबसे बड़ा आंकड़ा है। डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस एडहोनम गेब्रियेसियस ने चेतावनी दी है कि महामारी अभी लंबे समय तक हमारे बीच रहने वाली है। 24 घंटे में जो नए मामले आए, उनमें से करीब दो तिहाई (66%) मामले अमेरिका, रूस, ब्राजील और भारत में बढ़े। टेड्रोस ने कम और मध्यम आय वाले देशों में इस संक्रमण के बढ़ते मामलों पर चिंता जताई। विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि संक्रमितों की वास्तविक संख्या कहीं ज्यादा हो सकती है, क्योंकि ज्यादातर देशों में अभी टेस्टिंग कम हो रही है।

Comments
Loading...
error: Content is protected !!