ट्रंप बोले, अमेरिका में कम हो रहे कोरोना के मामले और वास्तव में यह है सुखद समाचार; जानें बाकी देशों का हाल

0 15

- Advertisement -

By:- MANOJ KUMAR

वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रविवार को कहा कि देश में कोरोना के मामलों में उल्लेखनीय कमी आई है। ट्रंप ने ट्विटर पर लिखा, ‘पूरे अमेरिका में कोरोना मामलों की संख्या में कमी आई है। हालांकि कुछ इलाकों में मरीजों की संख्या बहुत तेजी से कम नहीं हो रही है, लेकिन वास्तव में यह एक सुखद समाचार है। अमेरिका में अब तक संक्रमण के 1,528,179 मामले सामने आ चुके हैं जबकि बीमारी से जान गंवाने वालों का आंकड़ा 90,988 पर पहुंच गया है। अप्रैल में अमेरिका में प्रतिदिन संक्रमण के 36 हजार मामले सामने आ रहे थे, जिसमें अब काफी कमी आई है। पूरी दुनिया में कोरोना से प्रभावित होने वालों की बात करें तो 48 लाख से ज्यादा लोग जहां इसकी चपेट में आ चुके हैं वहीं तीन लाख 17 हजार लोग अब तक अपनी जान गंवा चुके हैं।

वुहान में बिना लक्षण वाले मरीजों की संख्या सबसे अधिक

चीन में संक्रमण के 25 नए मामले सामने आए हैं। सात मामले जहां घरेलू संक्रमण से जुड़े हैं वहीं 18 मरीज ऐसे हैं, जिनमें फिलहाल लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हैं। बिना लक्षण वाले 14 मरीज अकेले महामारी के केंद्र रहे वुहान में मिले हैं। वुहान में बिना लक्षण वाले 337 मरीज हैं, जो देश में सर्वाधिक हैं। जिलीन प्रांत में दो मरीज मिले हैं जबकि शंघाई में एक मरीज की पुष्टि की गई है। उधर, वुहान में सभी लोगों का कोरोना टेस्ट कराए जाने के अभियान के तहत रविवार को 335,887 का परीक्षण किया गया। एक दिन पहले 222,675 लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया था।

पुतिन ने संक्रमण को लेकर चिंता जताई

रूस के दक्षिणी क्षेत्र दाजेस्तान में कोरोना के मामलों को लेकर रूस के राष्ट्रपति व्लादीमीर पुतिन ने सोमवार को चिंता जताई। उन्होंने कहा कि दाजेस्तान के कैस्पियन सागर क्षेत्र में 3,460 नए मामले सामने आए हैं और 29 लोगों की मौत हुई है। हालांकि रूसी मीडिया ने संक्रमितों की संख्या और ज्यादा होने की बात कही है। उधर, रूस के रक्षा मंत्रालय ने साइबेरिया की स्वर्ण खदानों में काम करने वाले संक्रमित कर्मचारियों के इलाज के लिए अस्थायी अस्पताल बनाया है।

ब्रिटेन में सूंघने और स्वाद की क्षमता खत्म होने को भी लक्षणों में जोड़ा गया

ब्रिटेन में अभी तक कोरोना के लक्षणों में बुखार और कफ शामिल था, लेकिन रविवार को इसमें सूंघने और स्वाद की क्षमता खत्म होने को जोड़ दिया गया है। स्वास्थ्य अधिकारियों का मानना है कि इन नए लक्षणों से कोरोना मरीजों की संख्या में दो फीसद की वृद्धि हो सकती है। उधर, ब्रिटेन के वाणिज्य मंत्री आलोक शर्मा ने कहा है कि देश अब लॉकडाउन से छूट के अगले चरण की स्थिति में पहुंच गया है। भारतीय मूल के मंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान हम लेवल चार में थे, लेकिन आप सभी लोगों के प्रयास से हम संक्रमण के स्तर को कम लाने में कामयाब रहे हैं। अब हम लेवल तीन की तरफ बढ़ रहे हैं।

हंगरी और स्लोवेनिया सीमाएं खोलने को जारी

हंगरी और स्लोवेनिया एक जून से अपनी सीमाएं खोलने को जारी हो गए हैं। यह जानकारी हंगरी के विदेश मंत्री अपने फेसबुक पेज पर दी। उन्होंने कहा कि बिना अंतरराष्ट्रीय सहयोग के अर्थव्यवस्था में तेजी नहीं लाई जा सकती है। यूरोपीय यूनियन के सदस्य दोनों देशों के बीच 2.5 अरब यूरो (बीस हजार करोड़ रुपये से ज्यादा) का व्यापार होता है। उधर, लॉकडाउन से छूट के अगले चरण में सोमवार से इटली और वेटिकन में चर्च खुल गए। सेंट पीटर्स बेसिलिया में ना केवल पोप फ्रांसिस ने सुबह की प्रार्थना में हिस्सा लिया बल्कि पोप जॉन पॉल द्वितीय का जन्मदिन भी मनाया। डेनमार्क में सोमवार से कैफे और रेस्तरां भी खुल गए हैं। डेनमार्क यूरोप महाद्वीप का पहला ऐसा देश था, जिसने पिछले महीने ही स्कूल, डे-केयर सेंटर और छोटे व्यवसायों को खोलने की अनुमति दे दी थी।

राजदूत की मौत की जांच के लिए इजरायल टीम भेजेगा चीन

इजरायल स्थित अपने घर में मृत मिले चीनी राजदूत डू वेई की मौत की जांच के लिए चीन एक विशेष टीम भेजेगा। स्थानीय मीडिया के मुताबिक टीम स्वतंत्र रूप से जांच करने के साथ ही अंतिम संस्कार के लिए उनके शव को चीन ले जाने की भी व्यवस्था करेगी। आने वाली टीम में परिवार के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे। कोरोना महामारी के चलते इजरायल आने वाले सभी लोगों को पहले 14 दिनों तक क्वारंटाइन में रहना होता है, लेकिन यह नियम चीन से आने वाली टीम पर लागू नहीं होगा।

Comments
Loading...
error: Content is protected !!