5 दिन में मौतों का आंकड़ा दोगुना: 10 अप्रैल तक 1 लाख लोगों की मौत हुई थी; मरने वालों की संख्या अब 2 लाख हो गई

0 5

- Advertisement -

BY MANOJ KUMAR

दुनिया में कोरोनावायरस से मरने वालों का आंकड़ा शनिवार रात 2 लाख के पार हो गया। 10 अप्रैल तक 1 लाख 5 हजार 979 लोगों की मौत हुई थी। 25 अप्रैल को यह संख्या 2 लाख हो गई। यानी 15 दिन में मौतों का आंकड़ा दोगुना हो गया। अब तक 28 लाख 67 हजार 984 संक्रमित हैं। 2 लाख 430 की मौत हो चुकी है। इसी दौरान 8 लाख 19 हजार 310 स्वस्थ भी हुए। अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित है। यहां दुनिया की कुल मौतों में से 25 फीसदी ने दम तोड़ा।

अमेरिका के न्यूयॉर्क में शव ले जाने के लिए ट्रक का इस्तेमाल

न्यूयाॅर्क के ब्रुकलिन हॉस्पिटल में मृतकों के शव ले जाने के लिए रेफ्रिजरेटेड ट्रक का इस्तेमाल किया जा रहा है। अस्पताल के पिछले हिस्से में यह ट्रक पार्क किया गया है। यहांं पीपीई किट पहने मेडिकल वर्कर्स तैनात हैं। शव लाने के लिए मशीनों का इस्तेमाल किया जा रहा है। अस्पताल के सामने वाले हिस्से को मरीजों की आवाजाही के लिए छोड़ा गया है। यहां शुक्रवार को कई मरीज गंभीर हालत में लाए गए हैं। इन्हें सांस के लिए रेस्पिरेटर और ऑक्सीजन सपोर्ट दिया जा रहा है। अस्पताल के सामने ही टेंट लगाया गया है। यहां कोरोना के लक्षण नजर आने पर लोगों से टेस्ट कराने की अपील की जा रही है।

ब्रिटेन : मरने वालों का आंकड़ा अब 20 हजार पार

यहां शनिवार शाम संक्रमण से मरने वालों की तादाद 20 हजार 319 हो गई। यह आंकड़ा ब्रिटिश सरकार के डिपार्टमेंट ऑफ हेल्थ एंड सोशल केयर ने जारी किया। कुल एक लाख 48 हजार 377 लोग संक्रमित हैं। खास बात यह है कि अमेरिका की तरह ब्रिटेन में भी सिर्फ उन्हीं मौतों को गिना जा रहा है जो हॉस्पिटल या प्राईवेट नर्सिंग होम्स में हुईं। घर या अन्य किसी स्थान पर दम तोड़ने वालों को इसमें शामिल नहीं किया गया।

पाकिस्तान : पंजाब प्रांत में डॉक्टर भूख हड़ताल पर

पंजाब प्रांत में ‘यंग डॉक्टर्स एसोसिएशन’ यानी वायडीए भूख हड़ताल पर बैठ गया है। एसोसिएशन ने एक बयान में कहा, ‘कोविड-19 के खिलाफ हम जान जोखिम में डालकर लड़ रहे हैं। कई दिनों से और कई माध्यमों से सरकार को यह बात बताई कि हमारे पार मास्क, ग्लव्स और पीपीई किट नहीं हैं। लेकिन, कोई सुनने को तैयार नहीं है। ऐसे में हमारे पर भूख हड़ताल के अलावा कोई रास्ता नहीं बचा।’ द गार्डियन के मुताबिक, पाकिस्तान में 150 डॉक्टर्स संक्रमित हो चुके हैं। कुछ डॉक्टर्स की मौत भी हो चुकी है।

अमेरिका : हर दिन बढ़ती मौतें

दुनिया में संक्रमण से मरने वालों का आंकड़ा दो लाख के करीब है। इसकी एक चौथाई मौतें अकेले अमेरिका में हुई हैं। अब तक करीब 52 हजार अमेरिकी मारे गए। ये वो लोग हैं जिनकी मौत हॉस्पिटल्स या नर्सिंग होम में हुई और जिनके बारे में राज्य सरकारों ने जानकारी दी।

ईरान : खतरनाक हो सकता है संक्रमण का दूसरा दौर

यहां की हेल्थ मिनिस्ट्री को आशंका है कि देश में संक्रमण का दूसरा और नया दौर ज्यादा खतरनाक हो सकता है। रमजान के दौरान यहां कई इलाकों में भीड़ देखी जा रही है। तेहरान हेल्थ कमेटी के कोऑर्डिनेटर अलीरिजा झाली के मुताबिक, प्रतिबंधों में ढील देना संक्रमण को बुलावा देने जैसा है। यहां सरकार ने 11 अप्रैल से ही बाजार फिर खोल दिए हैं। झाली ने कहा- अगर अब हालात बिगड़े तो इन्हें काबू करना बेहद मुश्किल हो जाएगा।

श्रीलंका: 24 घंटे का कर्फ्यू

श्रीलंका में सरकार ने फिर से 24 घंटे का कर्फ्यू लगा दिया है। यहां शुक्रवार 46 नए मामले सामने आए। संक्रमण के 420 केस हो चुके हैं। सात लोगों की मौत हो चुकी है। बीबीसी के मुताबिक, कर्फ्यू उल्लंघन करने वाले 30 हजार लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

Comments
Loading...
error: Content is protected !!