अब तक 1 लाख 93 हजार मौतें: अमेरिका में 12 दिन में मौतों का आंकड़ा दोगुना हुआ; पाकिस्तान में आईएसआई लगाएगी संक्रमितों का पता

0 11

- Advertisement -

BY MANOJ KUMAR

दुनिया में कोरोनावायरस से अब तक एक लाख 93 हजार 866 लोगों की मौत हो चुकी है। 27 लाख 68 हजार 076 संक्रमित हैं। 7 लाख 64 हजार 793 ठीक हो चुके हैं। अमेरिका में मरने वालों का आंकड़ा 12 दिन में दोगुना हो गया। 12 अप्रैल को अमेरिका में मरने वालों का आंकड़ा 25 हजार था। 24 अप्रैल को यह 50 हजार 952 हो गया। पाकिस्तान से भी एक अहम खबर है। इमरान खान सरकार अब खुफिया एजेंसी आईएसआई की मदद से संक्रमितों का पता लगाएगी। खुद इमरान ने यह जानकारी दी।
स्पेन के लिए एक राहत भरी खबर है। 24 घंटे में यहां 367 लोगों की मौत हुई। करीब एक महीने में, एक दिन में होने वाली मौतों का यह सबसे कम आंकड़ा है।

अमेरिका : 10 दिन में दोगुना हुआ मौतों का आंकड़ा

शुक्रवार को अमेरिका में मरने वालों का आंकड़ा 50 हजार 919 हो गया। 12 अप्रैल को अमेरिका में मरने वालों का आंकड़ा 25 हजार था। 24 अप्रैल को यह 50 हजार 952 हो गया। यानी दोगुने से ज्यादा। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, एक महीने में यहां हर दिन औसतन करीब दो हजार ने दम तोड़ा। रिपोर्ट के मुताबिक, मरने वालों की संख्या ज्यादा भी हो सकती है। वजह ये है कि ज्यादातर राज्यों ने सिर्फ नर्सिंग होम्स और अस्पतालों में मरने वालों का डाटा रिलीज किया है। 40 फीसदी लोग तो अकेले न्यूयॉर्क में मारे गए हैं। इसके बाद न्यूजर्सी, मिशीगन और मैसाचुसेट्स का नाम आता है। कोरिया वॉर 1950 से 1953 तक चला। इसमें 36 हजार 516 अमेरिकी मारे गए थे।

पाकिस्तान : आईएसआई लगाएगी संक्रमितों का पता

प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को कहा कि खुफिया एजेंसी आईएसआई संक्रमितों का पता लगाने में मदद करेगी। कुछ पत्रकारों से बातचीत में इमरान ने कहा- हम ट्रैक एंड ट्रेस के लिए खुफिया एजेंसी का इस्तेमाल करने जा रहे हैं। खान के मुताबिक, जहां ज्यादा केस मिलेंगे, उन इलाकों को लॉकडाउन किया जाएगा। शुक्रवार रात कैबिनेट मीटिंग के बाद लॉकडाउन 9 मई तक बढ़ा दिया गया। इमरान ने कहा, “अब तक किसी देश या संस्था ने हमें आर्थिक मदद नहीं दी। रिजर्व खर्च हो चुके हैं। टैक्स रिकवरी न के बराबर है और कारोबार बंद हो चुके हैं।”

स्पेन : मौतों की दम में कमी

24 घंटे में यहां 367 लोगों की मौत हुई। करीब एक महीने में, एक दिन में होने वाली मौतों का यह सबसे कम आंकड़ा है। इसके पहले 22 मार्च 395 लोगों की मौत हुई थी। लेकिन, इसके बाद यह तादाद बढ़ती रही। देश में कुल 22 हजार 524 संक्रमित दम तोड़ चुके हैं।

डब्लूएचओ : जनवरी से जारी है रिसर्च

डब्लूएचओ के डायरेक्टर जनरल टेड्रोस एडहेनोम के मुताबिक, कोरोनावायरस के वैक्सीन पर रिसर्च जनवरी में ही शुरू कर दिया गया था। अब इसके लिए नए मापदंड अपनाए जा रहे हैं। इसके लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन नई पहल कर रहा है। इसमें उन संगठनों को एक ही मंच पर लाया जाएगा जो वैक्सीन पर रिसर्च कर रहे हैं। 4 मई को एक बड़ा कार्यक्रम होगा। इसमें कई देश और संगठन कोविड-19 रिसर्च के लिए डोनेशन का ऐलान करेंगे। फिलहाल, 7.5 अरब यूरो जुटाने का लक्ष्य है। इसके लिए ‘एक्ट टूल’ बनाया गया है। सभी देशों को आंकड़ें साझा करने होंगे।

Comments
Loading...
error: Content is protected !!