कोरेाना वायरस को लेकर अमेरिका के बाद फ्रांस के राष्ट्रपति ने भी चीन पर उठाए सवाल

0 14

- Advertisement -

BY MANOJ KUMAR

कोरोना महामारी से निपटने में चीन के प्रयासों पर फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने भी सवाल उठाए हैं। ब्रिटिश अखबार फाइनेंशियल टाइम्स को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि कुछ ऐसी चीजें घटित हुई हैं जिनके बारे में हमें पता नहीं है। इस बीच, कोरोना से मुकाबले के मोर्चे पर फ्रांस को कुछ अच्छे संकेत मिले हैं। अस्पताल में भर्ती होने वाले संक्रमितों की संख्या में लगातार दूसरे दिन और आइसीयू में भर्ती मरीजों की संख्या में लगातार आठवें दिन कमी आई है। फ्रांस में अब तक कोरोना से करीब 18 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। देश में करीब डेढ़ लाख लोग संक्रमित हैं।

मैक्रों बोले, कुछ ऐसी चीजें घटित हुई हैं जिसके बारे में हमें नहीं पता

मैक्रों से जब पूछा गया कि चीन की अधिनायकवादी प्रतिक्रिया (सब कुछ नियंत्रण में) से पश्चिमी देशों के लोकतंत्र की कमजोरी का पता नहीं चलता है तो उन्होंने कहा, ‘हमारे यहां की सरकारों से उन लोगों की तुलना नहीं की जा सकती है, जहां पर सच को दबाया जाता है। हम नहीं जानते लेकिन स्पष्ट रूप से कुछ ऐसी चीजें घटित हुई हैं, जिनके बारे में हमें नहीं पता है।’

ब्रिटेन ने भी उठाए सवाल

ब्रिटेन के विदेश मंत्री डॉमिनिक राब ने गुरुवार को कहा था, इस बात की जांच होनी चाहिए कि महामारी की शुरुआत कैसे हुई और इसे पहले क्यों नहीं रोका गया। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी चीन में मौत के आंकड़े को लेकर सवाल उठा चुके हैं।

अमेरिकी सीनेटरों की मांग, कोरोना वायरस उत्पत्ति की हो अंतरराष्ट्रीय जांच

अमेरिकी सीनेटरों के एक शक्तिशाली ग्रुप ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से नोवेल कोरोना वायरस की उत्पत्ति का पता लगाने के लिए जापान, दक्षिण कोरिया और यूरोपीय देशों जैसे सहयोगियों के साथ मिलकर खुली और पारदर्शी अंतरराष्ट्रीय जांच कराने की मांग की है। साथ ही उन्होंने इस संकट पर विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) की निर्णय लेने की प्रक्रिया की भी जांच कराने की मांग की है।

फ्लोरिडा से रिपब्लिकन सीनेटर मार्को रुबियो के नेतृत्व में सीनेटरों ने राष्ट्रपति से एक उच्चस्तरीय दूत भी नियुक्त करने का अनुरोध किया है जो कोविड-19 से निपटने और उससे जुड़ी जांच के अंतरराष्ट्रीय समन्वय प्रयासों का नेतृत्व करे।

चीन ने बढ़ाया वुहान में मौत का आंकड़ा

कोरोना महामारी से जुड़े वास्तविक आंकड़े छिपाने को लेकर हो रही आलोचना के बीच चीन ने मृतकों की संख्या में संशोधन किया है। चीन ने महामारी के केंद्र वुहान शहर में मृतकों की संख्या में 1290 का इजाफा किया है। इससे देश में कोरोना वायरस से जान गंवाने वालों की संख्या 4632 हो गई है। सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ के अनुसार, वुहान नगरपालिका मुख्यालय ने शुक्रवार को कोरोना संक्रमित मामलों और मौत के आंकड़े को संशोधित किया है। वुहान में 16 अप्रैल तक संक्रमित मामलों में 325 की बढ़ोतरी हुई है। इससे संक्रमित लोगों की संख्या 50,333 हो गई है। मृतकों की संख्या बढ़ने के बाद अकेले वुहान में कोरोना से जान गंवाने वालों की संख्या 3869 हो गई है। इससे देश में कोरोना से मौतों की संख्या भी 4,632 हो गई है।

Comments
Loading...
error: Content is protected !!