कोरोना संकट के बीच आयुष मंत्रालय ने कहा – इन घरेलू उपायों से बढ़ाएं शरीर की इम्युनिटी, पीएम मोदी ने भी किया जिक्र

0 10

- Advertisement -

नई दिल्ली। कोरोना संकट के बीच आयुष मंत्रालय ने मंगलवार को सेहत सही रखने और इम्युनिटी मजबूत करने को लेकर कुछ दिशानिर्देश जारी किए हैं। मंत्रालय ने कहा कि कोविड-19 के इलाज की अब तक कोई दवा नहीं बनी है। ऐसे में इम्युनिटी को मजबूत करने वाले कदम उठाने चाहिए। राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में भी प्रधानमंत्री ने लोगों को आयुष मंत्रालय के दिशानिर्देशों का पालन करने को कहा है।

इम्युनिटी बढ़ाने के लिए सुझाए गए उपाय

मंत्रालय ने देश के कई प्रतिष्ठित वैद्यों से मिले सुझाव के आधार पर कुछ ऐसे कदम उठाने को कहा है, जिनसे इम्युनिटी मजबूत हो सकती है। आयुर्वेद की पुस्तकों और विज्ञान पत्रिकाओं में भी इनकी खूबियां सामने आ चुकी हैं। हालांकि मंत्रालय ने स्पष्ट किया है कि एडवाइजरी में बताई गई बातें कोविड-19 का इलाज नहीं हैं। लोग अपनी सहूलियत, उपलब्धता एवं अनुभव के आधार पर इनका प्रयोग कर सकते हैं। मंत्रालय के दिशा-निर्देश में हमेशा गर्म पानी पीने और कम से कम 30 मिनट तक योगासन, प्राणायाम और ध्यान लगाने जैसे कदम शामिल हैं।

खांसी में भाप लेने और लौंग पाउडर के सेवन का सुझाव

मंत्रालय ने हर सुबह च्यवनप्राश खाने और हल्दी मिला दूध पीने की सलाह भी दी है। डायबिटीज के मरीजों को शुगरफ्री च्यवनप्राश लेने को कहा गया है। ग्रीन टी को भी मंत्रालय ने फायदेमंद बताया है। नाक में तिल या नारियल तेल या घी की कुछ बूंदे डालने को भी कहा गया है। सूखी खांसी या गले में खराश होने पर दिन में एक बार पुदीना की पत्तियों या आजवाइन की भाप लेना फायदेमंद है। शक्कर या शहद में लौंग पाउडर मिलाकर दिन में दो से तीन बार लेना भी खांसी या गले की खराश से निजात दिला सकता है। हालांकि मंत्रालय ने कहा कि इनसे सूखी खांसी और गले की खराश में ही राहत मिलती है। किसी भी तरह से लक्षण बढ़ने पर डॉक्टर की सलाह लें।

काढ़ा भी फायदेमंद

मंत्रालय ने अपने सुझावों में काढ़ा पीने का सुझाव भी दिया है। मंत्रालय का कहना है कि दिन में एक या दो बार तुलसी, दालचीनी, काली मिर्च, सूखी अदरक और मुनक्का का काढ़ा पीना सेहत के लिए फायदेमंद हो सकता है। स्वाद के लिए इसमें गुड़ या नींबू भी मिला सकते हैं। भारतीय परिवारों में खांसी, जुकाम और सेहत से जुड़ी कई छोटी-मोटी परेशानियों के लिए लोग काढ़ा पीते हैं। आमतौर पर काढ़ा बनाते समय उपरोक्त चीजों को पानी में उबालते हुए मात्रा को करीब आधा कर दिया जाता है।

मंत्रालय के ये हैं सुझाव

👉 COVID-19 से बचने के लिए जरूरी है कि आप नियमित तौर पर गुनगुना पीना पिएं।

👉रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के आप पानी में तुलसी रस की कुछ बूंदें डालकर पी सकते हैं।

👉शरीर के इम्यून सिस्टम को दुरूस्त रखने के लिए आपको नियमित तौर पर उचित मात्रा में आंवला, एलोवेरा, गिलोय, नींबू आदि का जूस पीना चाहिए।

👉 इम्यून सिस्टम की बेहतरी के लिए आप काढ़ा का सेवन करना उत्तम रहेगा।

👉इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाए रखने के लिए आप नियमित तौर पर तुलसी की 5 पत्तियां, 4 काली मिर्च, 3 लौंग, एक चम्मच अदरक का रस शहद के साथ ले सकते हैं।

👉 गर्म दूध में हल्दी मिलाकर पीने से भी रोग प्रतिरोधक क्षमता बेहतर होती है।- चाय पीने के शौकीन हैं, तो आपको नियमित रूप से 10 या 15 तुलसी के पत्ते, 5 से 7 काली मिर्च, थोड़ी दालचीनी और उचित मात्रा में अदरक डालकर बनाई गई चाय पीनी चाहिए। य​ह आपको रोगों से बचने में मदद करेगी।

Comments
Loading...
error: Content is protected !!