चीन में कोरोना:- फिर से मंडराया संक्रमण फैलने का खतरा, हेइलोंगजियांग प्रांत के सुइफेन्हे शहर में लॉकडाउन जैसे हालात

0 16

- Advertisement -

बीजिंग: चीन में कोरोनावायरस के दूसरे अटैक का खतरा सता रहा है। अब यहां रूस के साथ सटे उत्तरी प्रांत हेइलोंगजियांग में संक्रमण के नए मामले सामने आ रहे हैं। ज्यादातर संक्रमित ऐसे चीनी नागरिक हैं, जो दूसरे देशों से आए हैं। हेइलोंगजियांग प्रांत के सुइफेन्हे शहर में लॉकडाउन जैसे हालात हो गए हैं। हाल ही में आठ अप्रैल को वायरस का एपिसेंटर रहे वुहान से लॉकडाउन हटाया गया है, लेकिन अब फिर से सुइफेन्हे शहर में प्रतिबंधों का बढ़ना चिंताजनक है।

  जब से चीन में लॉकडाउन हटा है बड़ी संख्या में विदेशों में फंसे चीनी नागरिक लौट रहे हैं। इनमें कई नागरिक वायरस से संक्रमित भी हैं। इससे चीन में वायरस के दोबारा से फैलने का डर सता रहा है।

बीते 5 सप्ताह में एक दिन में सबसे ज्यादा मामले सामने नहीं आए

  चीन के नेशनल हेल्थ कमीशन के अनुसार, रविवार को यहां संक्रमण के 108 नए मामले सामने आए और दो लोगों की मौत हो गई। पिछले पांच हफ्तों से यहां एक दिन में इतने ज्यादा मामले सामने नहीं आए हैं। शनिवार को यहां 99 मामले सामने आए थे जो कि शुक्रवार के 46 मामलों से लगभग दोगुना थे।
इससे पहले पांच मार्च को एक दिन में सबसे ज्यादा 143 मामले आए थे। रविवार को आए 108 मामलों में 98 संक्रमित लोग विदेश से आए थे, यह भी एक नया रिकॉर्ड है। इन 98 में 49 हेइलोंगजियांग के सुइफेन्हे शहर से हैं।

रूस से सटा है हेइलोंगजियांग, यहीं से आते हैं संक्रमित

  हेइलोंगजियांग प्रांत रूस की सीमा से सटा हुआ है। ऐसे में जो चीनी नागरिक रूस में फंसे वे यहीं से आ रहे हैं। इसको देखते हुए अधिकारियों ने प्रतिबंध बढ़ा दिए हैं। हेइलोंगजियांग की राजधानी हर्बिन के साथ ही सीमावर्ती शहर सुइफेन्हे में लॉकडाउन जैसे हालात हो गए हैं। यहां आने वाले सभी लोगों को 28 दिनों के लिए क्वारैंटाइन किया जा रहा है।

  इसके साथ ही कई इलाकों को 14 दिनों के लिए लॉक कर दिया गया है। हेइलोंगजियांग प्रांत में अब तक बाहर से आने वाले 247 लोग संक्रमित पाए गए हैं। इसके साथ ही 118 ऐसे लोग हैं जो एसिम्टोमैटिक हैं। यानि इन लोगों में लक्षण नहीं नजर आते हैं।

Comments
Loading...
error: Content is protected !!